Home / Trending / 28 शहरों के 250 से भी अधिक कॉलेज नेशनल चैम्पियनशिप के लिए प्रतियोगिता में भाग लेंगे

28 शहरों के 250 से भी अधिक कॉलेज नेशनल चैम्पियनशिप के लिए प्रतियोगिता में भाग लेंगे

रेड बुल कैम्पस क्रिकेट-2018

नागपुर :

वर्ष 2017 के शानदार सीजन के बाद, रेड बुल कैम्पस क्रिकेट देश में एक बार फिर से धूम मचाने जा रहा है। इसके तहत एक पायदान और ऊपर प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है, ग्लोबल टी20 कॉलेज क्रिकेट प्रतियोगिता में इस बार इसे रोस्टर में दो नए शहर और शामिल किए गए हैं और इस प्रतियोगिता में पूरे देश के 28 शहरों के 250 से भी अधिक प्रतिभागी कॉलेजों के खिलाड़ी अपने बल्ले और गेंद का कमाल दिखाएंगे।
12 मार्च से आरंभ होकर अप्रैल के दूसरे सप्ताह तक चलने वाली रेड बुल कैम्पस क्रिकेट सिटी क्वालिफायर इन्दौर, देहरादून और कोच्चि में एक साथ शुरू होंगी। इसके बाद पश्चिम भारत के मुम्बई, बड़ोदरा, अहमदाबाद, पुणे, नागपुर ओर गोवा में होगी, इसके साथ ही उत्तर भारत के जालंधर, दिल्ली, जयपुर, जम्मू, चंडीगढ़ और लखनऊ में इस प्रतियोगिता का आयोजन होगा। इसी प्रकार दक्षिण भारत के चेन्नई, बंगलूरू, कोयम्बटूर, हैदराबाद, मैसूर और वैजाग तथा पूर्वी भारत के कोलकाता, रायपुर, गुवाहाटी, रांची, भुवनेश्वर, पटना, जमशेदपुर में आयोजन होगा।
प्रत्येक शहर से विजेता कॉलेज को अप्रैल में होने वाले जोनल/रीजनल फाइनल में भिड़ना होगा। प्रत्येक जोन की शीर्ष दो टीमों को नेशनल फाइनल में अपनी हुनर दिखाना होगा, जहां पर कि टीम क्वार्टर फाइनल का नॉकआउट राउण्ड, सेमीफाइनल्स, और क्रमशः फाईनल खेलंेगी। राष्ट्रीय विजेता को रेड बुल कैम्पस क्रिकेट वर्ल्ड सीरीज चैम्पियनशिप 2018 में भारत का प्रतिनिधित्व करना होगा। विगत वर्ष इस प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व रिजवी कॉलेज मुम्बई, डीएवी कॉलेज चंडीगढ, स्वामी श्रद्धानंद कॉलेज दिल्ली और एमएमएसी कॉलेज पुणे ने किया था।
रेडबुल कैम्पस क्रिकेट एक मात्र वैश्विक टी20 क्रिकेट टूर्नामेंट है जो पूरी तरह से यूनिवर्सिटी क्रिकेट टीम्स के लिए है, और युवा एवं उभरते क्रिकेट खिलाडि़यों को अपनी प्रतिभा और कौशल दिखाने के लिए एक मंच के रूप में अपनी सेवाएं प्रदान कर रहा है। टूर्नामेंट का यह सातवा वर्ष है। बियॉन्ड 22 यार्ड एक वीडियो सीरीज है जो कि क्रिकेट की कहानियों से प्रेरित है, जिसमें बैट और बॉल की शुरूआती आवश्यकताओं, इंटरनेशनल टूर्नामेंट्स में भाग लेने का पुणे, महाराष्ट्र की एक कॉलेज टीम का सपना बन गया है जिसे –https://www.redbull.com/in-en/beyond-22-yards पर देखा जा सकता है।

जाने पहचाने भारतीय क्रिकेटर्स केएल राहुल और करुण नायर रेडबुल कैम्पस क्रिकेट से जुड़े हुए हैं। रेडबुल कैम्पस क्रिकेट टूर्नामेंट की वर्ष 2016 की इण्डिया लीग में सर्वाधिक स्कोर बनाने वाले कन्नुर लोकेश राहुल ने इस मौके पर कहा कि ‘‘क्रिकेट मेरे दिल के काफी करीब है और मै ऐसा सोचता हूं कि मैं जीवन भर इसे याद रखूंगा। इसन मुझे अपने कॉलेज में खेले गए क्रिकेट की याद दिलादी और मेरे सोए हुए आत्मविश्वास को एक बार फिर से जगा दिया।
रेड बुल कैम्पस क्रिकेट 2018 सिटी क्वालिफायर्स में हिस्सा लेने वालों के नाम केएल राहुल ने कहा ‘‘ वहां जाओ और कुछ कठिन क्रिकेट को खेलो। वहां मिलने वाली खेल की भावना का अनुसरण करना चाहिए, इसके कोई मायने नहीं कि आपको किन चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। अपनी काबिलियत के अनुसार श्रेष्ट से श्रेष्ठतम प्रदर्शन कर अच्छी क्रिकेट खेलो। रेडबुल कैम्पस क्रिकेट युवा क्रिकेटर्स को एक ऐसा मंच प्रदान कर रहा है जहां वे अपने आपके हुनर को प्रदर्शित कर सकें, और आगे जाने के लिए इस मंच से इस पेशे के उचित विचारों को प्राप्त करो ताकि आप बुलंदियों को छू सको।‘‘
शार्दुल ठाकुर, मनन वोहरा, सिद्धेश लाड, हिमांशु राना, अभिमन्यू एश्वर्य, अनुकूल रॉय, ऋतुराज गायकवाड, रिकी भुई तथा अन्य कई परिचित चेहरे ऐसे है जिन्होंने पहले आरबीसीसी क्रिकेट खेला और है और भारतीय क्रिकेट जगत में सितारा बनकर उभरे हैं।
अनुकूल रॉ इण्डिया इलेवन में खेल रहे है और अधिकाधिक विकेट लेने वाले रहे हैं तथा उन्होंने वर्ष 2018 में अण्डर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप में भी अपनी छवि को और निखारा है। गत वर्ष उन्हों ने आरबीसीसी नेशनल फाइनल खेला, वे मारवाड़ी कॉलेज, रांची की तरफ से खेलते हैं। एक अन्य रेड बुल कैम्पस के पूर्व खिलाड़ी हिमांशु राना ने भी भारत के लिए न्यूजीलैण्ड में वर्ष 2018 में अण्डर 19 वर्ल्डकप नई दिल्ली के स्वामी श्रद्धानंद कॉलेज की तरफ से खेला। राना ने रेडबुल केम्पस क्रिकेट के 2015 संस्करण में भी खेला। उन्होंने नई दिल्ली शहर फाइनल्स में 86 रन पर नाबाद रह कर कॉलेज टीम की मदद की और इस टीम को हिन्दू कॉलेज के विरुद्ध भारत नगर मैदान में जीत दिलाई।

About admin

Check Also

सक्षम दशकपूर्ती समारोह कार्यक्रम आज

नागपूर : समदृष्टी क्षमता विकास एवम अनुसंधान मंडळ ( सक्षम ) या संस्थेला दहा वर्ष …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!